यह पांच खिलाड़ी जो विश्व कप 2023 में भारत की तरफ से खेलेंगे बीसीसीआई इनको….

Share If you like
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

 

दोस्तों नमस्कार स्वागत है आपका एक्सप्रैस इंडिया न्यूज़ पर। वर्ष 2021 में क्रिकेट की बाढ़ आने वाली है। लगातार एक देश दूसरे देश के दौरे पर है और विश्व में लगातार क्रिकेट हो रहा है। भारत ऑस्ट्रेलिया दौरे पर है, श्रीलंका साउथ अफ्रीका दौरे पर है, ऑस्ट्रेलिया में बिग बैश लीग भी चल रही पाकिस्तान भी न्यूजीलैण्ड के दौरे पर है और इसी बीच 2021 मे भारत मे क्रिकेट टी-ट्वेंटी वर्ल्ड कप भी होना है।

भारत क्रिकेट वर्ल्ड कप अबतक दो बार जीता है एक बार कपिल देव की कप्तानी में साल 1973 और महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में 2011 में और फ़िलहाल भारतीय टीम टेस्ट में नंबर 3, वनडे में 2 और टी-ट्वेंटी में 3 नंबर पर है और भारतीय टीम क्रिकेट वर्ल्ड कप 2023 को जीतने की प्रबल दावेदार है और इसकी दावेदारी को और मजबूती मिलेगी जब इन 5 खिलाड़ियों को भारतीय खेमे में शामिल होंगे। तो चलिए शुरू करते हैं :

1 ख़लील अहमद :

बायें हाथ के तेज गेंदबाज की कमी भारतीय टीम को पिछले कुछ सालों से टीम में है। टी नटराजन और ख़लील ने अपनी दावेदारी पेश की है। दोनों में ख़लील, नटराजन से 21 नजर आते हैं। जहीर खान और आशीष नेहरा के जाने के बाद कोई बायें हाथ का तेज गेंदबाज भारतीय टीम में जगह नही बना पाया है। लेकिन खलील अहमद ने अपने छोटे से करियर में सभी को प्रभावित किया है।

इस 21 वर्षीय युवा तेज गेंदबाज ने भारतीय टीम के लिए अब तक 11 एकदिवसीय मैच खेले हैं। जिसमें 31 की औसत से 15 विकेट लियें है। इस तेज गेंदबाज की इकॉनमी में 5.81 की है। इसलिए बीसीसीआई चाहेगी की 2023 विश्व कप की टीम में एक बायें हाथ का तेज गेंदबाज हरहाल में मौजूद होना चाहिए।

2 पृथ्वी शॉ :

ये युवा खिलाड़ी उन शानदार प्रतिभाशाली बल्लेबाजो में शामिल है जिसने भारत की टेस्ट टीम में अपनी जगह बना ली थी लेकिन मयंक अग्रवाल की अच्छी फॉर्म से उन्हें थोड़ी बहुत परेशानी हो सकती है। एक सलामी बल्लेबाज के रूप में खेलने वाला यह खिलाड़ी आक्रामक बल्लेबाजी के लिए जाना चाहता है। पहली गेंद से शॉट खेलने के कारण इस खिलाड़ी की तुलना कुछ लोग दिग्गज बल्लेबाज वीरेन्द्र सहवाग के साथ करते है।

हालांकि पृथ्वी शॉ ने भारत के लिए सिर्फ 3 वनडे मैच खेले हैं जिसमें उन्होंने 84 रन बनाए और हाईएस्ट स्कोर 40 रन रहा है लेकिन इस खिलाड़ी में प्रतिभा बहुत है और बीसीसीआई को इस खिलाड़ी को तैयार करना चाहिए।

3 श्रेयस अय्यर :

इस खिलाड़ी की भी उम्र अभी मात्र 24 वर्ष की है। श्रेयस अय्यर ने अब तक भारतीय टीम के लिए 21 वनडे मैच खेले है जिसमें उन्होंने 44.83 रनों की औसत से 807 रन बनाए हैं। उनका सर्वोच्च स्कोर 103 रहा है।

दिल्ली कैपिटल्स टीम के कप्तान और युवा प्रतिभाशाली बल्लेबाज श्रेयस अय्यर को भी अब भारतीय टीम में जगह बनाने के लिए कही ज्यादा मौके मिलेंगे इस खिलाड़ी ने आईपीएल में दिल्ली के लिए और घरेलु सत्र में मुंबई के लिए लगातार रन बनाकर सभी को बहुत ज्यादा प्रभावित किया है।

4 शुभमन गिल :

युवा प्रतिभाशाली खिलाड़ी शुभमन गिल को भी बीसीसीआई अगले विश्व कप तक तैयार करना चाहेगी। गिल क्रिकेट में लंबे रेस के घोड़े कहे जाते हैं और हाल में ही ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट डेब्यू भी किया जिसमें उन्होंने सबको प्रभावित भी किया। अंडर19 विश्व कप में इस खिलाड़ी ने अपने बल्लेबाजी से सभी को बहुत ज्यादा प्रभावित किया है। इस खिलाड़ी की उम्र मात्र अभी 20 वर्ष की है।

 

5 ऋषभ पंत :

ऋषभ ऋषभ पंत को अन्य खिलाड़ियों के मुकाबले कहीं ज्यादा मौके मिले हालांकि उनमें प्रतिभा बहुत है लेकिन वह उस प्रतिभा को भुना नहीं पाए, ऋषभ पंत ने टेस्ट क्रिकेट में खुद को एक विकेटकीपर बल्लेबाज के रूप में साबित किया है। खुद कप्तान और मुख्य चयनकर्ता ने इस खिलाड़ी को मौजूदा समय में भारतीय टीम का पहले दर्जे का विकेटकीपर बता दिया है। पंत के पास मैच बदलने वाला खेल मौजूद हैं।

Mohit

मोहित वर्तमान समय में दिल्ली स्कूल ऑफ जर्नलिज्म से पत्रकारिता की पढ़ाई कर रहे हैं। साथ ही एक्सप्रेस इंडिया न्यूज में खेल संवाददाता के रूप में कार्यरत हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *